PRESS RELEASES

October 23, 2018

यूनियन बैंक में ग्राहकों को मिलेंगी 24 घंटे सेवाएं

  • 23 October, 2018

मथुरा 23 अक्टूबर। यूनियन बैंक की सौंख चौराहा शाखा में अब इ. लॉबी सेवा के अंतर्गत ग्राहकों को साल के 365 दिन और 24 घंटे सेवाएं प्राप्त हो सकेंगीं। इ. लॉबी का शुभारंभ यूनियन बैंक के लखनऊ अंचल के क्षेत्र महाप्रबंधक लाल सिंह और नयति हैल्थकेयर की चेयरपर्सन नीरा राडिया ने संयुक्त रूप से फीता काटकर एवं दीप प्रज्वलित करके किया।

इस अवसर पर यूनियन बैंक के क्षेत्र महाप्रबंधक लाल सिंह ने कहा कि हमारी शाखा में इस सेवा के शुरू होने के बाद दुकानदारों और व्यापारियों को काफी लाभ मिलेगा,  वे किसी भी समय और किसी भी दिन अपना पैसा जमा करा सकते हैं और निकाल भी सकते हैं पासबुक अपडेट कर सकते हैं और चैक आदि की भी जमा निकासी की जा सकती है।

 

नयति हैल्थकेयर की चेयरपर्सन नीरा राडिया ने कहा कि जिस तरह नयति ने महानगरों में मिलने वाला उपचार ब्रज तक पहुंचाया है उसी प्रकार यूनियन बैंक द्वारा आरम्भ की गई इ. लॉबी सेवा मथुरा में शुरू करना सराहनीय है अभी तक इस प्रकार की सेवाएं महानगरों के लोगों तक ही पहुंच पाती थीं किन्तु अब ब्रजवासी भी इन सेवाओं का लाभ ले सकेंगे।

कार्यक्रम में आगरा क्षेत्र प्रमुख के.एस यादव एवं शाखा प्रबंधक ब्रजमोहन उपस्थित थे।

October 6, 2018

कई वर्षों से पेशाब की समस्या से ग्रस्त महिला का नयति में ऑपरेशन द्वारा हुआ सफल इलाज

  • 06 October, 2018

मथुरा नयति मेडिसिटी में रुक रुक कर आ रही पेशाब की समस्या से ग्रस्त हाथरस निवासी 49 वर्षीय महिला का एलएमजी यूरेथ्रोप्लास्टी विधि से सर्जरी कर सफल इलाज किया गया।

नयति मेडिसिटी के सीईओ डॉ. आरके मनी ने कहा कि नयति में स्थित डॉक्टरों की टीम हर प्रकार की गंभीर बीमारियों के इलाज एवं सर्जरी के लिए सक्षम है, यह सर्जरी भी हमारी टीम द्वारा किया गया एक उदाहरण है।

नयति मेडिसिटी के यूरोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉ. सुमित शर्मा ने बताया कि मुन्नीदेवी जब हमारे पास आयीं तो पिछले कई वर्षों से पूरी तरह पेशाब न होने की परेशानी से जूझ रहीं थीं, उन्हें पेशाब करते समय बहुत जोर लगाना पड़ता था और बूंद बूंद करके उनकी पेशाब आती थी। यहां आने से पहले आगरा और जयपुर के कई अस्पतालों में भी खुद को दिखाने के अलावा एक ऑपरेशन तक करा चुकी थीं, लेकिन उन्हें कोई लाभ नहीं हुआ। यहां आने के बाद हमारे द्वारा युरोफ्लोमेट्री टेस्ट एवं अन्य जांचों  द्वारा पता चला कि उनकी पेशाब की नली सिकुड़ने के साथ संकरी (एमसीयू) भी हो गयी है, जिसको ऑपरेशन के माध्यम से ठीक किया जा सकता है। परिवार की सहमति के बाद हमने अपनी टीम के साथ मिलकर उनका एलएमजी यूरेथ्रोप्लास्टी विधि से सफल ऑपरेशन कर दिया, जिसमें हमने उनकी जीभ की त्वचा से उनकी पेशाब की नली को रीकंस्ट्रक्ट कर दिया।अब वे बिल्कुल स्वस्थ हैं।

नयति में अपना ऑपरेशन कराने वाली मुन्नी देवी ने बताया कि इस बीमारी के कारण मेरी जिंदगी बिल्कुल अस्त व्यस्त हो गयी थी। किसी काम में मन नहीं लगता था और ना ही किसी रिश्तेदार आदि के यहां जाने को दिल करता था। हर समय कपड़े खराब होने का डर बना रहता था, लेकिन नयति में ऑपरेशन कराने के बाद मुझे अब किसी तरह की कोई समस्या नहीं है अब मैं बहुत ज्यादा खुश हूं।

ऑपरेशन करने वाली टीम में डॉ. हर्ष गुप्ता एवं डॉ विकास कुमार पवार का प्रमुख योगदान रहा।