PRESS RELEASES

May 28, 2019

नयति में 71 वर्षीय बुजुर्ग के पेट से निकाली 7 किलो की सिस्ट

  • 28 May, 2019

मथुरा 25 मई। 71 वर्षीय बहोरन सिंह पिछले 5 साल से पेट के भारीपन से परेशान थे। इसे वह पेट में गैस आदि की सामान्य समस्या समझ कर अपना इलाज करा रहे थे, लेकिन पिछले कुछ दिनों से तो उन्हें खानेपीने में भी दिक्कत होने लगी, यहां तक कि कुछ भी खाते ही वह उल्टी द्वारा निकल जाता था। अपनी इसी परेशानी के साथ वह नयति पहुंचे और डॉक्टरों ने जांच करने पर पाया कि उनके पेट में काफी बड़ी गांठ है, जिसे निकालने की जरूरत है। परिवार की सहमति के बाद उनके पेट से सफलतापूर्वक सिस्ट निकाल दी गयी।

नयति मेडिसिटी के जीआई सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ अजय अग्रवाल और डॉ सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि बहोरन की जांच में जो सिस्ट पता चली उसे मेडिकल साइंस में लाइपोसर्कोमा नाम की बीमारी कहते हैं, जिसमें पेट की चर्बी में अंदर की ओर गांठ पड़ जाती है जो लगातार बढ़ती रहती है। यह बीमारी बहुत ही कम लोगों में पायी जाती है। बहोरन के पेट में काफी बड़ी सिस्ट थी, जो पेशाब की नली, छोटी – बड़ी आंत, खून की नालियों तथा पेट के अंदर कई और अंगों से चिपकी हुई थी, जिसे सफलतापूर्वक निकाल दिया गया। ऑपरेशन के बाद निकाली गयी सिस्ट का वजन 7 किलो था।

नयति मेडिसिटी के जीआई सर्जरी विभाग के अध्यक्ष डॉ योगेश अग्रवाला ने कहा कि नयति के जीआई सर्जरी विभाग में काफी अनुभवी डॉक्टरों की टीम विश्वस्तरीय तकनीक के साथ मौजूद है, जहां हर्निया, एपेंडिक्स, पित्त की थैली और नली की सर्जरी, छोटी-बड़ी आंतों की सर्जरी के अलावा पेट से संबंधित हर तरह की सर्जरी की जा रही हैं, और तो और हमारे यहां 176 से ज्यादा मोटापा कम करने वाली बैरियाट्रिक सर्जरी भी की जा चुकी हैं। यह सभी सर्जरी लैप्रोस्कोपी सर्जरी के माध्यम से की जाती हैं, जिसमें मरीज दूसरे दिन ही अपने घर वापस चला जाता है। नयति में एक ही छत के नीचे सभी सुविधाएं मौजूद होने से मरीज के इलाज में सहूलियत मिलती है।

अपना ऑपरेशन कराने वाले बहोरन सिंह ने कहा कि नयति आने से पहले मेरा पेट काफी फुला हुआ रहता था, लगता था कि पेट पर कोई वजन रखा हुआ है। तीन चार दिन में एक बार शौच जा पाता था। ऑपरेशन के बाद मैं बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं और ठीक से खापी भी रहा हूं।

सर्जरी करने वाली टीम में डॉ शिव कुमार यादव और डॉ परमेश्वर वीजी का विशेष योगदान रहा।

May 7, 2019

स्वास्थ्य के क्षेत्र में अभूतपूर्व योगदान के लिए नयति को मिले अवार्ड

  • 07 May, 2019

5 मई। नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में नयति हैल्थकेयर की चेयरपर्सन नीरा राडिया को भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के द्वारा दोपुरस्कारों से नवाजा गया है। उन्हें स्वास्थ्य के क्षेत्र में किये जा रहे अपने उल्लेखनीय योगदान के लिए टियर 2 और टियर 3 शहरों में सुपर स्पेशियलिटीइलाज पहुंचाने के लिए एक्सीलेंस इन मल्टी स्पेशियलिटी टर्शरी केयर हॉस्पिटल अवार्ड तथा एक्सीलेंस इन सीएसआर इनिशिएटिव अवार्ड देकरसम्मानित किया गया।

ज्ञात हो कि नयति हैल्थकेयर की चेयरपर्सन नीरा राडिया ने विश्वस्तरीय तथा आधुनिक स्वास्थ्य सेवाओं को टियर 2 तथा टियर 3 शहरों तक पहुंचाने काकार्य किया है, जिसके अंतर्गत उनके द्वारा मथुरा में शुरू किए गए पहले हॉस्पिटल नयति मेडिसिटी में आज स्वास्थ्य संबंधी हर वो सेवा उपलब्ध है जोनयति से पहले देश के गिने चुने बड़े तथा महानगरों में ही उपलब्ध थी। बिजनेस वर्ल्ड मैग्जीन द्वारा हर वर्ष स्वास्थ्य के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने वालेलोगों को इस प्रकार के अवार्ड से नवाजा जाता है।

इस अवसर पर नयति हैल्थकेयर की चेयरपर्सन नीरा राडिया ने कहा कि बिजनेस वर्ल्ड द्वारा दिये गए इन दोनों एवार्ड्स के लिए मैं आयोजकों का तहेदिलसे शुक्रिया अदा करती हूं।

May 7, 2019

देश के जाने माने कार्डियक सर्जन डॉ. मोहंती बने नयति का हिस्सा

  • 07 May, 2019

मथुरा 3 मई 2019।हृदय की दस हजार से अधिक सर्जरी कर चुके देश के जाने माने कार्डियक सर्जन डॉ. विक्रम केशरी मोहंती अपने 25 वर्षों से अधिकअनुभव के साथ अब नयति मेडिसिटी का हिस्सा बन गए हैं। नयति में डॉ. मोहंती हृदय रोग विभाग के अध्यक्ष के रूप में अपनी सेवाएं देंगे। नयतिमेडिसिटी से पहले डॉ. मोहंती सफदरजंग, अपोलो, नेशनल हार्ट इंस्टीट्यूट, द हार्ट सेंटर, जे पी हॉस्पिटल, तिरुमाला हॉस्पिटल, कामिनेनी मेडिकल कॉलेजएंड हॉस्पिटल तथा हॉस्पिटल ऑफ शाल्बी ग्रुप जैसे देश के विभिन्न अस्पतालों में अपनी सेवाएं दे चुके हैं, तथा आप देश के उन गिने चुने कार्डियक सर्जनमें से एक हैं जिन्हें किसी भी उम्र (नवजात शिशु से बुजुर्ग तक) के मरीज की कार्डियक सर्जरी करने में महारथ हासिल है। उनके नयति से जुड़ने के बाद ब्रजतथा आसपास के लोगों को भी काफी लाभ प्राप्त हो सकेगा। एमबीबीएस, एमएस (जनरल सर्जन), डीएनबी (सीटीवीएस सर्जरी) कर चुके डॉ मोहंती कोकॉम्प्लेक्स बाईपास, बीटिंग हार्ट सर्जरी, री-डू सर्जरी, टोटल ऑर्टरियल रिवाइसक्लाइजेशन, अवेक सर्जरी, कैरोटिड एंडेक्टेक्टॉमी, संयुक्त बाईपास, सिंगलडबल और ट्रिपल वॉल्ब रिप्लेसमेंट, छोटे बच्चों के हृदय सर्जरी के अलावा हृदय संबंधी हर प्रकार की सर्जरी का अनुभव प्राप्त है। आपके द्वारा किये गएकई शोध राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर भी प्रकाशित हो चूके हैं।

इस अवसर पर नयति हैल्थकेयर की चेयरपर्सन नीरा राडिया ने कहा कि पिछले 3 वर्षों में हमने देखा कि हमारे हृदय रोग विभाग में बच्चों से लेकर बुजुर्गोंतक हर उम्र के मरीज आ रहे हैं। नयति स्थित कार्डियक सेंटर इस क्षेत्र का सबसे बेहतरीन और विश्वस्तरीय कार्डियक सेंटर है, जहां बेहतरीन संसाधनों केसाथ देश के जाने माने चिकित्सक मौजूद हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि डॉ मोहंती के नयति परिवार से जुड़ने के बाद नयति में आने वाले हृदय रोगियों कोऔर अधिक लाभ मिल सकेगा।

इस अवसर पर डॉ. विक्रम केशरी मोहंती ने कहा कि काफी समय तक मैं देश के कई जाने माने अस्पतालों में अपनी सेवाएं दे चुका हूं, जैसे ही मुझे ब्रज मेंआने का सौभाग्य प्राप्त हुआ मैं खुद को यहां आने से रोक नहीं पाया। देखा जाय तो आज विश्वस्तरीय इलाज की सबसे ज्यादा जरूरत टियर 2 और टियर 3शहरों के लोगों को ही है। ब्रज में आकर इस क्षेत्र के बड़े अस्पताल नयति से जुड़कर मुझे ब्रजवासियों की सेवा करने का अवसर मिलेगा यह सोचकर खुद कोगौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ।