नयति में मुंह के कैंसर का सर्जरी द्वारा हुआ सफल इलाज

मथुरा 12 जुलाई। नयति मेडिसिटी में मुंह के कैंसर का एन ब्लॉक रिमूबल विधि द्वारा सर्जरी करके सफल इलाज किया गया। आमतौर पर इस प्रकार की सर्जरी में पूरा जबड़ा निकाल देते हैं, लेकिन नयति में विशेष तकनीक द्वारा केवल कैंसरग्रस्त जबड़े को ही निकाला गया है।

आगरा निवासी 52 वर्षीय पार्वती के मुंह में छाला हो गया था जो काफी इलाज कराने के बाद भी सही नहीं हुआ, उनका खाना पीना बंद हो गया था, मुंह भी पूरी तरह से नहीं खुल पा रहा था। तब वे नयति आकर नयति मेडिसिटी के कैंसर सर्जरी विभाग के डाइरेक्टर डॉ रविकांत अरोरा से मिलीं, जहां जब पार्वती के छाले की बायोप्सी करायी गयी तो पता चला कि उनके जबड़े के कुछ भाग में कैंसर है जिसकी सर्जरी करने की तुरंत आवश्यकता थी। परिवार की सहमति के बाद उनकी सर्जरी कर दी गयी।

इस अवसर पर नयति मेडिसिटी के कैंसर विभाग के अध्यक्ष डॉ (प्रो.) शान्तनु चौधरी ने कहा कि सही समय पर कराये गये उचित इलाज द्वारा कैंसर पूरी तरह ठीक हो सकता है। शरीर में किसी हिस्से में रक्तस्राव अथवा कोई गांठ, ऐसा घाव जो ठीक न हो रहा हो, शौच का कड़ा होना आदि लक्षण दिखाई दें तो तुरंत कैंसर रोग विशेषज्ञ को दिखाना चाहिए।

नयति में हर उम्र के व्यक्ति एवं किसी भी प्रकार के कैंसर से सम्बंधित हर वह इलाज मौजूद है जिसके लिए अब तक दिल्ली और मुम्बई तक जाना पड़ता था। नयति में आने वाले किसी भी मरीज के बेहतरीन इलाज के लिए हमारे यहां के अलग अलग विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम मिलकर निर्णय लेती है, जिससे मरीज को सटीक इलाज मिल सके।

नयति मेडिसिटी के कैंसर सर्जरी विभाग के डायरेक्टर डॉ. रविकांत अरोरा ने बताया कि पार्वती के ऑपरेशन का जब हमने प्लान किया तब यह निश्चय किया कि हम इनका पूरा जबड़ा नहीं निकालेंगे बल्कि जितने भाग में कैंसर फैला है वही भाग निकालेंगे, यह करना काफी जटिल था किंतु हमने यही किया। हमने उनके कैंसरग्रस्त जबड़े का ऑपरेशन एन ब्लॉक रिमूबल विधि से किया और जीभ की त्वचा से खाली हुई जगह को भर दिया, ऑपरेशन के बाद इनको रेडियेशन एवं कीमोथैरेपी भी दी गयी, अब पार्वती बिल्कुल स्वस्थ है।

Back