नयति में हृदय के 6X5 सेमी ट्यूमर का हुआ सफल ऑपरेशन

मथुरा । नयति मेडिसिटी में 64 वर्षीय मरीज के हृदय के दाहिनी ओर हुए एक बड़े ट्यूमर का ओपन हार्ट सर्जरी द्वारा सफल इलाज किया गया। इस प्रकार का ट्यूमर आमतौर पर नहीं होता है, हृदय के 1 लाख मरीजों में 1 या दो मरीज ही इस प्रकार की बीमारी से ग्रस्त होते हैं।

इस क्षेत्र में हृदय से इतने बड़े ट्यूमर को अलग करने वाला नयति मेडिसिटी पहला हॉस्पिटल बन गया है।

नयति मेडिसिटी के कार्डियक सर्जरी विभाग के अध्यक्ष डॉ. आदर्श कोप्पुला ने बताया कि 64 वर्षीय चंद्रपाल जब हमारे पास आये थे तब वे बलगम के साथ खून आने की परेशानी एवं सांस की परेशानी से कई महीनों से जूझ रहे थे, उन्होंने कई डॉक्टरों को दिखाया लेकिन उन्हें कोई लाभ नहीं मिल सका। हमने उनकी जरूरी जांच कराई तब पता चला कि उनके हृदय (दिल) के दाहिनी ओर 6X5 सेमी का ट्यूमर है, जिसकी वजह से उनके फेफड़ों पर भी दवाब दे रहा है और उन्हें सांस लेने एवं बलगम के साथ खून आ रहा था। उनकी ओपन हार्ट सर्जरी करके उस ट्यूमर को हटाने की तत्काल आवश्यकता थी।

परिवार की सहमति के बाद हमने उनके ट्यूमर को पूरी तरह हटा दिया, अब चंद्रपाल जी बिल्कुल स्वस्थ हैं।

नयति मेडिसिटी के सीईओ डॉ. आरके मनी ने कहा कि चंद्रपाल जी जब नयति मेडिसिटी में आये थे तब वे पिछले कई महीनों से बलगम के साथ खून आने की परेशानी से जूझ रहे थे, उनके हृदय में जो ट्यूमर था वह बिल्कुल अलग किस्म का था। डॉ. आदर्श और उनकी टीम के लिए भी इस ट्यूमर का ऑपरेशन करना काफी चुनौतीपूर्ण रहा। नयति के हृदय रोग विभाग में हृदय संबंधी रोगों के लिए हर प्रकार की विश्वस्तरीय तकनीक तथा चिकित्सक मौजूद हैं जिनके कारण हम लोगों तक बेहतरीन इलाज उपलब्ध करा पा रहे हैं।

Back