नयति मेडिसिटी ने विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर लोगों को किया जागरूक

मथुरा 31 मई 2017 नयति मेडिसिटी में विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। गौरतलब है हर साल तंबाकू के बढ़ते दुष्परिणामों को देखते हुए 1988 में वर्ल्ड हेल्थ एसेंबली ने तंबाकू निषेध दिवस मनाने की घोषणा की थी। तभी से हर वर्ष विश्व भर में तंबाकू से होने वाले खतरों से बचने तथा लोगों को जागरूक करने के लिए इस दिन का आयोजन किया जाता है। कार्यक्रम में उपस्थित डाक्टरों ने तंबाकू और धूम्रपान से होने वाली बीमारियों और उनसे बचने के उपायों के बारे में  अवगत कराया। कार्यक्रम में कैंसर रोग विशेषज्ञ, श्वसन रोग विशेषज्ञ तथा मनोचिकित्सक डाक्टरों ने अपने विचार व्यक्त किए।

कार्यक्रम में नयति मेडिसिटी के सीईओ डा आर के मनी ने कहा कि हम अपने सामाजिक दायित्वों को पूरा करने के लिए इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित करते रहते है। तंबाकू और धूम्रपान आज समाज के लिए सबसे बडा खतरा है, और यह हमारी नैतिक और सामाजिक जिम्मेदारी है कि हम इससे होने वाले खतरों के बारे में नई पीढ़ी को अवगत कराते हुए जागरूक कर उन्हें इसके दुष्परिणामों से बचा सकें। हम जानते है कि टियर 2 और टियर 3 शहरों में आज भी बड़े शहरों की अपेक्षा स्वास्थ और तंबाकू/धूम्रपान को लेकर जागरूकता की काफी कमी है जिसके कारण नयति इस दिशा में लगातार प्रयास कर रहा है।

नयति मेडिसिटी के कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. अमित भार्गव ने कहा कि आज के समय में कैंसर का सबसे बड़ा कारण तंबाकू और धूम्रपान का सेवन है। इसी कारण नई पीढ़ी में मुंह का कैंसर, गले का कैंसर, आंतों का कैंसर, लीवर कैंसर के मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है।

नयति मेडिसिटी के श्वसन रोग विशेषज्ञ डा. विपुल मिश्रा ने कहा कि सांस संबंधी रोगियों में  धूम्रपान करने वालों का प्रतिशत हमेशा अधिक रहता है। रोग को बढ़ने से रोकने के लिए तंबाकू/धूम्रपान को बंद करना जरूरी होता है। इसी कारण तंबाकू सेवन करने वाले लोगों में सीओपीडी, अस्थमा जैसी घातक बीमारियां घेर लेती हैं।

नयति मेडिसिटी के मनोचिकित्सक डॉ. सागर लवानिया ने कहा कि तंबाकू या धूम्रपान हमारे समाज के लिए किसी अभिशाप से कम नही है लेकिन अगर इच्छाशक्ति हो तो इस लत से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए परिवारजनों और अपनों का सहयोग भी काफी जरूरी है।

 

—————————————————-

नयति हेल्थकेयर एवं रिसर्च प्रा. लि. के बारे में: नयति हेल्थकेयर एवं रिसर्च प्रा़ लि़ भारत का पहला मल्टी सुपर स्पेशियल्टी हेल्थकेयर संस्थान है, जो टियर 2 एवं टियर 3 शहरों में प्रीमियम टर्शियरी केयर प्रदान करता है। यह अत्याधुनिक मेडिकल तकनीक एवं इलाज की सुविधाओं के साथ विश्वस्तरीय पेशेंट केयर सेवाएं भी प्रदान करता है। संस्थान का लक्ष्य किफायती एवं आसानी से उपलब्ध हेल्थकेयर सेवाएं प्रदान करना है।

 

नयति मेडिसिटी मथुरा के बारे में: नयति मेडिसिटी, मथुरा क्षेत्र का पहला हॉस्पिटल है, जो प्रारंभ होने के बाद से ही सेंटर ऑफ एक्सिलेंस के द्वारा इंटीग्रेटेड, व्यापक एवं हाई क्वालिटी हेल्थकेयर प्रदान कर रहा है। इस सेंटर में अत्याधुनिक इंटेंसिव केयर यूनिटें हैं, जिनमें एमआईसीयू, सीसीयू, एसआईसीयू, एनआईसीयू एवं पीआईसीयू शामिल हैं। मथुरा स्थित यह हॉस्पिटल वृंदावन, पलवल, फिरोजाबाद, मैनपुरी, कासगंज, इटावा, एटा, हाथरस, आगरा एवं आसपास के क्षेत्रों तक के लोगों को सेवाएं दे रहा है।

Back