नयति मेडिसिटी में हुआ लिंग फ्रेक्चर का सफल ऑपरेशन

मथुरा 4 फरवरी। 11 साल का अभिनव (काल्पनिक नाम) जब सुबह जगा तो वो लिंग में भयानक दर्द की वजह से रोये जा रहा था। उसकी माँ ने जब उसकी परेशानी को देखते हुए उसका लिंग देखा तो अभिनव के लिंग में काफी सूजन थी जिसे देखकर उसके परिवार वाले घबरा गये और तुरन्त नयति मेडिसिटी ले आये जहां यूरोलॉजी विभाग के चेयरमेन डॉ.पी बी सिंह ने अभिनव की सघन जाँच की तो उन्हें उसके लिंग में फ्रेक्चर का शक हुआ उन्होंने तुरन्त अभिनव का एमआरआई कराया जिसको कराने के बाद उनका शक सही साबित हुआ।

डॉ. पी.बी. सिंह तथा उनकी टीम डॉ. हर्ष गुप्ता तथा डॉ. दर्शन शर्मा तथा अन्य ने तुरन्त अभिनव का ऑपरेशन कर दिया जो लगभग एक घंटे तक चला। ऑपरेशन के दो दिन बाद अभिनव को घर जाने की अनुमति दे दी गयी और अब अभिनव बिल्कुल ठीक है।

इस अवसर पर यूरोलॉजी विभाग के चेयरमेन डॉ. पी.बी. सिंह ने बताया कि लाखों में एक दो मरीज इस तरह के लिंग फ्रेक्चर से पीड़ित होते हैं जिन्हें एक छोटे से ऑपरेशन से ठीक किया जा सकता है। इस क्षेत्र में नयति मेडिसिटी पहला ऐसा हॉस्पिटल है जहाँ लेप्रोस्कोपी के माध्यम से छोटे से ऑपरेशन से कम पीड़ादायक सर्जरी की जाती है और मरीज जल्द ही अपने घर जाकर एक सप्ताह में अपने काम पर जा सकता है। आज विज्ञान ने इतनी तरक्की कर ली है कि हर प्रकार की बीमारी का इलाज संभव है। पहले इस प्रकार के लिंग फ्रेक्चर के बाद मरीज को काफी दिन तक हॉस्पिटल में रहना पड़ता था, लेकिन अब विश्वस्तरीय तकनीक तथा सुविधाओं के कारण ऑपरेशन करना कम पीड़ादायक तथा आसान हो गया है। नयति मेडिसिटी में आज स्वास्थ्य सम्बन्धी हर वो सुविधा उपलब्ध है जो विश्व के किसी भी कोने में मौजूद है।

Back